औषधीय पौधे एवं उनके उपयोग: Part II

औषधीय पौधे प्रकृति के उपचार हैं। वे विशेष पौधे हैं जिनमें हमारे स्वास्थ्य को ठीक करने और बेहतर बनाने की शक्ति है। इन पौधों का उपयोग सदियों से विभिन्न बीमारियों और बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता रहा है।

इस लेख में, आइए अधिक औषधीय पौधों के बारे में जानें जिन्हें आप घर पर उगा सकते हैं और जानें कि वे हमें कैसे लाभ पहुंचा सकते हैं।

4. करी पत्ता

इसे मीठा नीम या डॉ. सेंसिटिव भी कहा जाता है।

  • करी पत्ते में कई स्वास्थ्यवर्धक गुण होते हैं, जो कई स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों के इलाज में मदद करते हैं।
  • आजकल बाजार में सूखे करी पत्ते उपलब्ध हैं, और मुख्य रूप से रसोई में इस्तेमाल होने वाले मसाले के रूप में उपयोग किये जाते हैं।

करी पत्ते के औषधीय लाभ

curry leaves

करी पत्ते में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं.

(i) लीवर और दिल से जुड़ी बीमारियों में करी पत्ते का सेवन फायदेमंद होता है।

(ii) एनीमिया के खतरे को कम करता है और शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है।

(iii) करी पत्ता त्वचा रोग और दाग-धब्बे, कील-मुंहासों से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद है।

(iv) करी पत्ते में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट दिल को स्वस्थ रखने का काम करते हैं। यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ-साथ अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने का भी काम करता है।

(v) साइनस संक्रमण, खांसी और सर्दी की समस्या को दूर करने के लिए करी पत्ते का सेवन किया जा सकता है। इसमें विटामिन ए और सी उच्च मात्रा में पाए जाते हैं।

रोजाना खाली पेट 6-8 पत्तियां खाने की दिनचर्या का पालन करना उपरोक्त सभी समस्याओं का एक प्रस्तावित समाधान है।

5. पथरचट्टा प्लांट (कलानचो पिनाटा)

पत्थरचट्टा एक आयुर्वेदिक पौधा है जिसमें कई औषधीय गुण होते हैं।

  • इसका उपयोग घर पर कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता है।
  • पत्थरचट्टा में मौजूद उपचारात्मक गुण कई बीमारियों के इलाज में मदद करते हैं।
पत्थरचट्टा के औषधीय लाभ

Patharchatta

इस गुणकारी और सदाबहार पौधे के उपयोग से प्राप्त प्रमुख स्वास्थ्य लाभों में निम्नलिखित शामिल हैं –

(i) अगर आपको पथरी की समस्या है तो पत्थरचिट्टा आपकी सेहत के लिए रामबाण है।

(ii) पत्थरचट्टा की पत्तियों से प्राप्त रस में विशेष तत्व होते हैं, जो रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

(iii) पत्थरचट्टा की पत्तियों में विशेष प्रकार के यौगिक पाए जाते हैं, जो घावों के भरने की प्रक्रिया को तेज करते हैं।

(iv) इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण सूजन, लालिमा और जलन जैसे लक्षणों को भी कम करते हैं।

पत्थरचट्टा को औषधि के रूप में कैसे उपयोग करें?

1. 2-3 पत्तियां लें, उन्हें पीस लें और शहद के साथ मिला लें।

2. गुर्दे की पथरी के इलाज के लिए रोजाना खाली पेट गुनगुने पानी के साथ इसका सेवन करें।

3. इससे पेट दर्द से भी राहत मिलती है

“पत्थरचट्टा पौधे को एक पत्ती काटकर भी बहुत आसानी से लगाया जा सकता है।”

6. पारिजात (हरश्रृंगार या शूली)

पारिजात के पौधे को हरसिंगार के नाम से भी जाना जाता है, जो औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं।

  • यह कई बीमारियों का प्रभावी ढंग से इलाज कर सकता है।
  • अत्यंत सुगंधित, छोटी पंखुड़ियों वाले और सफेद रंग के हरसिंगार के फूल केवल रात में ही खिलते हैं, इसलिए इन्हें नाइट ब्लूमिंग जैस्मीन या रात की रानी भी कहा जाता है।
  • एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर पारिजात कई बीमारियों से लड़ने में मददगार है।

पारिजात के औषधीय लाभ

Night jasmine

इस पौधे की पत्तियां, फूल और छाल में औषधीय गुण मौजूद होते हैं:

(i) गठिया के मरीजों के लिए यह बहुत कारगर है।

(ii) इसकी पत्तियों का उपयोग सर्दी और फ्लू के इलाज के साथ-साथ पेट के कीड़ों को मारने के लिए भी किया जा सकता है।

(iii) यह किसी भी तरह के घाव को ठीक करने में सहायक है।

(iv) यह मधुमेह के लिए बहुत फायदेमंद है।

(v) इससे आंखों के रोगों में भी लाभ मिलता है।

(vi) इसका उपयोग बुखार को ठीक करने के लिए भी किया जाता है।

(vii) पारिजात के गुणों से दाद का भी इलाज किया जा सकता है।

(viii) इसका एक बीज प्रतिदिन खाने से बवासीर रोग ठीक हो जाता है।

(ix) इसके फूल हृदय के लिए भी सर्वोत्तम माने जाते हैं। इसके फूलों के रस का सेवन करने से हृदय रोग से बचा जा सकता है।

उपचार के लिए पारिजात का उपयोग कैसे करें?

(i) पारिजात की 6-7 पत्तियां लें।

(ii) इन्हें पानी से धो लें। इन्हें आधा लीटर पानी में तब तक उबालें जब तक पानी की मात्रा एक चौथाई न रह जाए।

(iii) इसे छान लें और इस पानी को मिश्री के साथ पी लें।

इसे घावों पर कैसे लगाएं?

कभी-कभी घावों को ठीक होने में समय लगता है।

  • इन्हें जल्दी ठीक करने के लिए पारिजात की पत्तियों का लेप लगाएं।
  • इसमें एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं इसलिए यह घाव को फैलने नहीं देगा।

7. बेल का पौधा

बेल एक महत्वपूर्ण औषधीय पौधा है। आयुर्वेद में इसके कई फायदे बताए गए हैं।

  • इसका फल बहुत सख्त होता है लेकिन
  • अंदर से नरम और गूदेदार होता है और इसमें बीज भी होते हैं।

Bael plant

बेल का प्रयोग कई प्रकार की औषधियां बनाने में किया जाता है, साथ ही कई स्वादिष्ट व्यंजनों में भी इसका प्रयोग प्रमुखता से किया जाता है।

  • बेल में प्रोटीन, बीटा-कैरोटीन, थायमिन, राइबोफ्लेविन और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।
बेल के पौधे के औषधीय लाभ

bael juice

(i) दस्त और पेचिश के लिए बेल फल का उपयोग किया जा सकता है।

(ii) बेल के रस का उपयोग रक्त को शुद्ध करने के लिए किया जाता है।

(iii) यह किडनी की कार्य क्षमता को भी बढ़ाता है।

(iv) बेल का फल खाने से लीवर अच्छे से काम करता है क्योंकि यह शरीर की सभी अशुद्धियों को नष्ट कर देता है।

(v) हैजा की समस्या में बेल का रस और बेलपत्र का चूर्ण पानी के साथ लेना चाहिए, इससे राहत मिलती है।

बेल का सेवन कैसे करें?

1. उपरोक्त सभी बीमारियों को ठीक करने के लिए पत्तियों को नमक के साथ खाएं।

2. लू से बचने के लिए बेल का जूस पीने की सलाह दी जाती है क्योंकि बेल का जूस ठंडक प्रदान करता है और जब भी आप घर से बाहर जाएं तो बेल का जूस पीएं ताकि आपका शरीर ठंडा रहे और आपको लू न लगे।

3. बेल के पत्ते का रस निकालकर काली मिर्च के साथ सेवन करने से पीलिया और पुरानी कब्ज से राहत मिलती है।

“बेल का पौधा आमतौर पर जमीन में पाया जाता है लेकिन इसे 12-14 इंच के गमले में भी उगाया जा सकता है।”

अवश्य पढ़ें:

औषधीय पौधे एवं उनके उपयोग: (I)

शुभ बागवानी!

Contact Us

Scroll to Top
How to Care Croton Plant in Summer Why Does My Jasmine Plant Have No Fragrance? Does Cactus Need Sunlight Everyday? Amazing benefits of keeping Areca palm at home भीषण गर्मी में तुलसी के पौधे को कैसे बचाएं How to Make Jade Plant Bushy How to keep Crassula ovata plant Healthy घर में एरेका पाम रखने के अद्भुत फायदे How to Care Plants in Extreme Summer How to Save Dying Jade Plant? Save Tulsi Plant in Extreme Summer: Check Expert Tips Why Your Jade Plant is Dying? Jade Plant Guide, Doubts & Queries Top 6 Organic Liquid Fertilizers for Plants How to keep Jade plant Healthy जानिये कैसे बनाएं Jade plant के लिए सर्वोत्तम मिट्टी मिश्रण Jade plant propagation and care 9 Plants That Are Good For Your Health Eating Curry Leaves Daily Benefits Lucky Flower Plant: घर में जरूर लगाएं ये 5 फूलों वाले पौधे
How to Care Croton Plant in Summer Why Does My Jasmine Plant Have No Fragrance? Does Cactus Need Sunlight Everyday? Amazing benefits of keeping Areca palm at home भीषण गर्मी में तुलसी के पौधे को कैसे बचाएं How to Make Jade Plant Bushy How to keep Crassula ovata plant Healthy घर में एरेका पाम रखने के अद्भुत फायदे